Bikaner Live

‘सजग आंगनबाड़ी अभियान’ में लापरवाही बरतने पर बाल विकास परियोजना अधिकारियों के विरूद्ध जारी होंगे नोटिस

बीकानेर,17 मई। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने सजग आंगनबाड़ी अभियान के क्रियान्वयन में लापरवाही बरतने पर जिले के सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं।
महिला एवं बाल विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं के संबंध में कलेक्ट्रेट सभागार में मंगलवार को आयोजित समीक्षा बैठक में जिला कलक्टर ने आंगनबाड़ी केंद्रों पर फॉलिक एसिड और आयरन सिरप की उपलब्धता और उपभोग सुनिश्चित करने साथ आवश्यकता के अनुसार लिखित डिमांड करने के निर्देश दिए। इस संबंध में हर सप्ताह रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद ने कहा कि फॉलिक एसिड और आयरन सिरप वितरण में बरती गई गंभीर लापरवाही, अस्वीकार्य है। उन्होंने अगले 7 दिनों में समस्त केंद्रों पर फोलिक एसिड के संबंध में दिए गए निर्देशों की अक्षरशः पालना सुनिश्चित करने को कहा।
मॉडल केंद्र के रूप में विकसित करना उद्देश्य
जिला कलक्टर ने कहा कि सजग आंगनबाड़ी अभियान का उद्देश्य जिले के समस्त आंगनबाड़ी केंद्रों पर सभी आधारभूत सुविधाओं का विकास करना है, जिससे इन्हें मॉडल केंद्रों के रूप में विकसित किया जा सके। इसके लिए समस्त महिला पर्यवेक्षकों को केंद्रों का नियमित निरीक्षण करना होगा। उन्होंने कहा कि सभी सीडीपीओ अपने अपने क्षेत्र के महिला पर्यवेक्षकों से इस संबंध में नियमित रिपोर्ट लेंगे। महिला पर्यवेक्षक विजिट के दौरान निर्धारित फॉर्मेट भरकर सीडीपीओ के समक्ष प्रस्तुत करेंगी। इस कार्य में लापरवाही सामने आती है तो संबंधित महिला पर्यवेक्षक को भी नोटिस दिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि महिला पर्यवेक्षक की विजिट के दौरान आशा सहयोगिन भी आंगनवाड़ी केंद्र पर आवश्यक रूप से उपस्थित रहेंगी। बैठक में महिला बाल विकास उप निदेशक शारदा चौधरी सहित संबंधित सीडीपीओ और महिला पर्यवेक्षक उपस्थित रहीं।

खबर

http://

Related Post

Covid 19 बीकानेर कोविड सम्बन्धी दैनिक रिपोर्ट

बीकानेर 225 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई सुबह 207 ,शाम 18