Bikaner Live

40 वर्षों से प्रचलित रास्ते का हुआ अंकन, आसान हुआ आवागमन

40 वर्षों से प्रचलित रास्ते का हुआ अंकन, आसान हुआ आवागमन 


बीकानेर। प्रशासन गावों के संग अभियान के तहत ग्राम पंचायत शेखसर में शुक्रवार को आयोजित शिविर ग्रामवासियों के लिए राहत लेकर आया।
शिविर के दौरान ग्राम पंचायत सरपंच के नेतृत्व में ग्रामवासियों ने शिविर प्रभारी को निवेदन किया कि ग्राम शेखसर से जैतपुर जाने के लिए प्रचलित रास्ता 40 वर्षों से चल रहा है, पर शेखसर से कपुरीसर गांव की सीमा तक 13 किलोमीटर रास्ता राजस्व रिकार्ड में अब तक तक दर्ज नहीं है। इस रास्ते का उपयोग कई गांवों के लोग सार्वजनिक आवागमन रास्ते के रूप में करते आ रहे है, अतः रास्ते का राजस्व रिकार्ड में अंकन करवायें।
शिविर प्रभारी उपखण्ड अधिकारी लूनकरनसर ने तहसीलदार को प्रचलित रास्ते का राजस्व रिकार्ड में अंकन हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। प्री- केम्प के दौरान इस रास्ते का भौतिक सत्यापन किया जा चुका था। तहसीलदार लूनकरनसर ने 42 खसरों में से गुजर रहे प्रचलित रास्ते का प्रस्ताव तैयार कर शिविर प्रभारी उपखण्ड अधिकारी को प्रस्तुत किया। उपखण्ड अधिकारी लूनकरनसर ने शिविर स्थल पर उपस्थित ग्रामीणों के समक्ष रास्ता अंकन के आदेश पारित कर आमजन को राहत प्रदान की। प्रचलित रास्ते का राजस्व रिकार्ड में अंकन होने पर सभी ग्राम वासियों ने प्रशासन गांवों के संग अभियान की तारीफ करते हुए प्रशासन का धन्यवाद किया।

खबर

http://

Related Post

Covid 19 बीकानेर कोविड सम्बन्धी दैनिक रिपोर्ट

बीकानेर 225 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई सुबह 207 ,शाम 18